फुर्सत के दिन/fursat ke din

एक प्रयास,"बेटियां बचाने का"में शामिल होइए http://ekprayasbetiyanbachaneka.blogspot.com/

40 Posts

603 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 4540 postid : 127

रंग(बाबूजी होली है ) - Holi Contest

  • SocialTwist Tell-a-Friend

चाय ,चाय ,चाय ‘की आवाज ने मेरी नीद खोल दी |लगता है कोई स्टेशन आ गया ,आँख खुली तो सामने नीली टोपी पहने एक चाय वाला  लोगों को चाय डाल रहा था नजर टोपी से नीचे गयी तो चेहरा भी नीला ? दिमाग चकरा गया ,फिर मैंने पूंछ ही लिया भाई नीली टोपी क्यों -जवाब-बाबूजी होली है ;
वो तो ठीक है  चेहरा ?
फिर वाही जवाब -बाबूजी होली है बाबूजी चाय लेंगे ?
मैंने कहा डाल दो ,पर जैसे ही उसने चाय डाली मई दांग रह गया और बोला भाई टोपी ठीक है, चेहरा भी ठीक है, पर चाय ? चाय तो पहले ही रंगीन होती है ,दूध डालो तो गुलाबी न डालो तो काली रंग तो रंग ही है फिर नीली चाय क्यों “मै सोच रहा था फिर वाही जवाब मिले गा -बाबूजी होली है -पर नहीं इस बार जवाब बदल गया -चाय वाले ने इधर उधर देखा मुह मेरे कान के पास लाया और धीरे से फूस फुसाया -बाबूजी u p  है  !!!!
मै कुछ और पूछता उससे पहले वह ट्रेन से उतर चूका था |
मलकीत सिंह “जीत ”
9935423754

| NEXT

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (9 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

33 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

suman rajendra singh के द्वारा
March 19, 2011

सार्थक लेख ! एक सोचनीय विषय पर बेहतरीन लेख लिखने के लिए होली की शुभ कामनाओ सहित बधाई

    malkeet singh jeet के द्वारा
    March 19, 2011

    सुमन जी होली की आप सब को भी हार्दिक बधाई

shalender shail के द्वारा
March 19, 2011

एक विचारोत्तेजक और सार्थक लेख के लिए आप बधाई के पात्र हैं.

    malkeet singh jeet के द्वारा
    March 19, 2011

    क्या बात है भाई साहब आज कल फोन रिसीव नहीं कर रहे होली की आप सब को भी हार्दिक बधाई

shameem rohtagi के द्वारा
March 18, 2011

बिलकुल सही लिखा है आपने ऐसा ही हो रहा है…अच्छी रचना के लिए बधाई….

    malkeet singh "jeet" के द्वारा
    March 18, 2011

    इसका तजा उदाहरण है ” sd vajpayee जी का सचित्र ब्लाग सपा का प्रर्दशन और डीआइजी का पराक्रम !

razia mirza के द्वारा
March 17, 2011

जोर का झटका हलके से लगाया है jeetji आपने तो| सुन्दर प्रस्तुती|

    malkeet singh jeet के द्वारा
    March 18, 2011

    प्रतिक्रिया मिली मेरी तरफ से होली की शुभ कामनाए

vinita shukla के द्वारा
March 17, 2011

अच्छा कटाक्ष. सटीक शब्दों में हालात का बयान करती हुई सार्थक रचना.

    malkeet singh jeet के द्वारा
    March 18, 2011

    उत्साहवर्धन करने का धन्यवाद मेरी तरफ से होली की शुभ कामनाए

Narendra gosvami के द्वारा
March 17, 2011

badhiya prastuti hai kintu Holi Contest ke liye kush shoti nahi rahi? khair badhai

    malkeet singh jeet के द्वारा
    March 18, 2011

    प्रतिक्रिया मिली उत्साहवर्धन करने का धन्यवाद  

R N ray के द्वारा
March 17, 2011

कम से कम शब्दों में सटीक प्रस्तुतीकरण के लिए बधाई स्वीकार करे

    malkeet singh jeet के द्वारा
    March 18, 2011

    धन्यवाद आशा है आपका सहयोग यूँ ही बना रहेगा शुभ होली

suremdra "rawan" के द्वारा
March 17, 2011

vyavastha ki halat  बहुत अच्छे शब्दों में लिखी है

    Malkeet Singh JeeT के द्वारा
    March 17, 2011

    धन्यवाद ,उर्जा स्वरूप प्रतिक्तिया मिली

suremdra "rawan" के द्वारा
March 17, 2011

उत्कृष्ट साहित्यिक रचना के लिए बधाई हो

    Malkeet Singh JeeT के द्वारा
    March 17, 2011

    surender ji प्रतिक्रिया देने का शुक्रिया

rajendra jain के द्वारा
March 17, 2011

हा हा हा, बेहद रोचक और हास्य…

    Malkeet Singh JeeT के द्वारा
    March 17, 2011

    jain ji प्रतिक्रिया देने का शुक्रिया

MAYANK के द्वारा
March 17, 2011

क्या खूब फ़रमाया …बहुत बढ़िया लघु कथा लिखें हैं.

    Malkeet Singh JeeT के द्वारा
    March 17, 2011

    रचना में रूचि रखने का शुक्रिया मयंक जी

nishamittal के द्वारा
March 17, 2011

होली तो सबकी है बस सत्ता का रंग चढ़ा है और वो भी ……….खल कारी कामरी चढ़े न दूजो रंग शुभकामनाएं.होली की भी प्रतियोगिता की भी.

    Malkeet Singh JeeT के द्वारा
    March 17, 2011

    धन्यवाद ,प्रतिक्रियाओं का ऋण कुछ अच्छा लिख कर चुकाने की कोशिश करुगा

alkargupta1 के द्वारा
March 16, 2011

बहुत सही जवाब है…. u p है…. ! वाकई यू. पी. की होली काली,नीली ,पीली ,सिलेटी. सुनहरी और न जाने किस-किस रंग की होती है सर्वविदित है ……पर होली तो होली ही है न…. अच्छा व्यंग्य !

    Malkeet Singh JeeT के द्वारा
    March 17, 2011

    u p की होली तो अब जी सत्ता के रंग की ही होती है , उर्जा स्वरूप प्रतिक्तिया मिली धन्यवाद

sunildubey के द्वारा
March 16, 2011

होली है जी ..बधाईया

    Malkeet Singh JeeT के द्वारा
    March 17, 2011

    उर्जा स्वरूप प्रतिक्तिया मिली धन्यवाद

आर.एन. शाही के द्वारा
March 16, 2011

कांटेस्ट में ओपेनिंग बैट्समैन बनने के लिये बधाई । लेकिन क्या सचमुच यूपी में नीली चाय मिलती है ?

    malkeet singh jeet के द्वारा
    March 16, 2011

    अगर सच सीधे न कह सको तो -होली है बाबु जी -

    suremdra "rawan" के द्वारा
    March 17, 2011

    बहन जी जिस तरह सत्ता मद में चूर है वह दिन dur nahi u p me roti sabaji chaya sab ek hi rang ke milne lage

gunjan sharma के द्वारा
March 16, 2011

जीत जी होली के मोके पर व्यवस्था पर एक अच्छा कटाक्ष है ,बढ़िया प्रस्तुति

    malkeet singh jeet के द्वारा
    March 16, 2011

    गुंजन जी सर्वप्रथम प्रतिक्रिया देने का शुक्रिया


topic of the week



latest from jagran